Language

  • English
  • Hindi
  • Marathi
  • Kannada
  • Telugu
  • Tamil
  • Gujarati

हमने पिछली पोस्ट में इनपुट टैक्स क्रेडिट (आई टी सी) का परिचय दिया। चलिए अब जानते हैं कि जी एस टी प्रणाली में आपके इनपुट टैक्स क्रेडिट को आपकी टैक्स लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ कैसे कर सकते है।

जी एस टी एक दोहरी संकल्पना वाली प्रणाली है। हर लेनदे  न पर (राज्य के भीतर) सेंट्रल जी एस टी (सी जी एस टी) और स्टेट जी एस टी (एस जी एस टी) के घटक होंगे। अंतरराज्य लेनदेन पर इंटीग्रेटेड जी एस टी (आई जी एस टी) लागू होगा। इसलिए व्यापारों के लिए यह जानना महत्वपूर्ण है कि कानून में निर्दिष्ट किए क्रमानुसार इन प्रत्येक घटकों के साथ इनपुट क्रेडिट कैसे सेट ऑफ करें।

निम्न तालिका बताती है कि क्रेडिट सेट ऑफ करने का क्रम क्या है:

इनपुट टैक्स क्रेडिटलायबिलिटी के साथ सेट ऑफ
सी जी एस टी (सेंट्रल जी एस टी)सी जी एस टी और आई जी एस टी (इसी क्रम में)
एस जी एस टी (स्टेट जी एस टी)एस जी एस टी और आई जी एस टी (इसी क्रम में)
आई जी एस टी (इंटीग्रेटेड जी एस टी)आई जी एस टी, सी जी एस टी, एस जी एस टी (इसी क्रम में)

यह कैसे काम करता है इसे समझने के लिए एक उदाहरण देखते हैं।

उदाहरण 1 – सी जी एस टी और एस जी एस टी आई टी सी का उपयोग कैसे किया जा सकता है?

सुपर कार्स लि. कर्नाटक में स्थित एक कार निर्माता हैं। सुपर कार्स लि. द्वारा किए गए लेनदेन टैक्स घटक के साथ नीचे दिए गए हैं:

पार्टी का नामगंतव्य राज्यलेनदेन का प्रकारउत्पादइनपुट क्रेडिटटैक्स लायबिलिटी
सी जी एस टीएस जी एस टीसी जा एस टीएस जी एस टी
रत्ना स्टील्सकर्नाटकक्रय (इनवर्ड सप्लाई)स्टील1,20,0001,20,000
रविंद्र ऑटोमोबाइल्सकर्नाटकविक्रय (आउटवर्ड सप्लाई)कार36,00036,000
रविंद्र ऑटोमोबाइल्सकर्नाटकविक्रय (आउटवर्ड सप्लाई)स्पेयर पार्ट्स — —90,00090,000

माह के अंत में सुपर कार्स लि. उपलब्ध इनपुट क्रेडिट को उनकी टैक्स लायबिलिटी के साथ एडजस्ट करते हैं।

इस उदाहरण में सुपर कार्स लि. की टैक्स लायबिलिटी 12,000 की है। यह इस प्रकार निकाला गया:

  1. सुपर कार्स लि. का सी जी एस टी और एस जी एस टी, दोनों की ओर इनपुट टैक्स क्रेडिट है 1,20,000 प्रत्येक।
  2. कानून में निर्धारित किए अनुसार, सुपर कार्स लि. ने पहले सी जी एस टी की आई टी सी 1,20,000 को सी जी एस टी की लायबिलिटी 1,26,000 (36,000+90,000) के साथ सेट ऑफ किया। इस एडजस्टमेंट के बाद सी जी एस टी लायबिलिटी है 6,000 (1,26,000 – 1,20,000)।
  3. फिर, एस जी एस टी के इनपुट क्रेडिट 1,20,000 को एस जी एस टी की लायबिलिटी 1,26,000 (36,000 + 90,000) के साथ सेट ऑफ किया। एस जी एस टी इनपुट क्रेडिट को सेट ऑफ करने के बाद एस जी एस टी लायबिलिटी है 6,000 (1,26,000 – 1,20,000)।
  4. सी जी एस टी और एस जी एस टी, दोनों के उपलब्ध इनपुट क्रेडिट का उपयोग करने के बाद, सुपर कार्स लि. की टैक्स लायबिलिटी है 12,000 (सी जी एस टी लायबिलिटी 6,000 + एस जी एस टी लायबिलिटी 6,000)
  5. सी जी एस टी के तहत टैक्स लायबिलिटी को सेट ऑफ करने के बाद सी जी एस टी के किसी भी शेष इनपुट क्रेडिट बैलेंस को एस जी एस टी के लिए सेट ऑफ नहीं किया जा सकता। सी जी एस टी के तहत आई टी सी के बैलेंस को (सी जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ के बाद) अगली अवधि में ले जाया जाएगा।
  6. इसी प्रकार, एस जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ के बाद एस जी एस टी के बैलेंस को अगली अवधि में ले जाया जाएगा।

उदाहरण 2 – आई जी एस टी आई टी सी का उपयोग कैसे किया जाता है?

सुपर कार्स लि. के अन्य लेनदेनों पर नज़र ड़ालते हैं।

पार्टी का नामगंतव्य राज्यलेनदेन का प्रकारउत्पादइनपुट क्रेडिटटैक्स लायबिलिटी
सी जी एस टीएस जी एस टीआई जी एस टीसी जी एस टीएस जी एस टीआई जी एस टी
शाइन एल्युमिनियम इंडस्ट्रीज़ लि.तमिलनाडुक्रय (इनवर्ड सप्लाई)एल्युमिनियम बार्स30,000 —
लक्ष्मी रबर इंडस्ट्रीज़ लि.तमिलनाडुक्रय (इनवर्ड सप्लाई)टायर्स — —10,000 — — —
A-1 स्पेयर्समहाराष्ट्रविक्रय (आउटवर्ड सप्लाई)स्पेयर पार्ट्स — —12,000
जॉन्सन ऑटो पार्ट्सकर्नाटकविक्रय (आउटवर्ड सप्लाई)स्पेयर पार्ट्स    24,000    24,000

माह के अंत में सुपर कार्स लि. ने आई जी एस टी इनपुट टैक्स क्रेडिट को उनकी टैक्स लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ किया

ऊपर दिखाए अनुसार,

  1. सुपर कार्स लि. का आई जी एस टी इनपुट टैक्स क्रेडिट है 40,000 और टैक्स लायबिलिटी है आई जी एस टी 12,000, सी जी एस टी 24,000 और एस जी एस टी 24,000।
  2. कानून में निर्धारित किए अनुसार, पहले आई जी एस टी इनपुट टैक्स क्रेडिट को आई जी एस टी टैक्स लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ किया जाना चाहिए। फिर, बचे हुए आई टी सी को पहले सी जी एस टी और उसके बाद एस जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ किया जा सकता है।
  3. सुपर कार्स लि. ने पहले आई जी एस टी आई टी सी को आई जी एस टी लायबिलिटी 12,000 के साथ सेट ऑफ किया।
  4. शेष आई जी एस टी आई टी सी क्रेडिट 28,000 (40,000 – 12,000) को सी जी एस टी लायबिलिटी 24,000 के साथ सेट ऑफ किया गया।
  5. इस एडजस्टमेंट के बाद बचे आई जी एस टी आई टी सी क्रेडिट 4,000 को एस जी एस टी लायबिलिटी के साथ 4,000 तक सेट ऑफ किया गया।

अब, उपलब्ध इनपट क्रेडिट का उपयोग करने के बाद, सुपर कार्स लि. की एस जी एस टी लायबिलिटी है 20,000

उदाहरण 3 – सी जी एस टी आई टी सी को एस जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ नहीं किया जा सकता

सी जी एस टी आई टी सी को एस जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ न कर सकने के संबंध में सुपर कार्स लि. का ही एक अन्य उदाहरण देखते हैं।

सुपर कार्स लि. के पास आगे लाया हुआ सी जी एस टी इनपुट क्रेडिट 15,000 है।

इनपुट क्रेडिट बैलेंसराशि
सी जी एस टी इनपुट क्रेडिट15,000

माह के दौरान सुपर कार्स लि. के आउटवर्ड सप्लाई विवरण नीचे दिए गए हैं:

inputcreditsetoff_hindi

दिखाए गए अनुसार,

  1. सुपर कार्स लि. ने पिछली अवधि के सी जी एस टी इनपुट क्रेडिट 15,000 को वर्तमान अवधि की सी जी एस टी लायबिलिटी 11,000 के साथ सेट ऑफ किया।
  2. इस सेट ऑफ के बाद सुपर कार्स लि. के पास सी जी एस टी इनपुट क्रेडिट 4,000 शेष है।
  3. कानून में निर्धारित किए अनुसार, अवधि के लिए अतिरिक्त सी जी एस टी इनपुट क्रेडिट को वर्तमान अवधि की एस जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ नहीं किया जा सकता। इसी प्रकार एस जी एस टी इनपुट क्रेडिट को सी जी एस टी लायबिलिटी के साथ सेट ऑफ नहीं किया जा सकता।
  4. इस प्रकार, बैलेंस सी जी एस टी क्रेडिट का उपयोग नहीं किया गया और सुपर कार्स लि. की इस माह की एस जी एस टी लायबिलिटी है 11,000।

Are you GST ready yet?

Get ready for GST with Tally.ERP 9 Release 6

230,691 total views, 2,838 views today